Current Details

क्या है स्वाइन फ्लू ? क्या है स्वाइन फ्लू के लक्षण ?और कैसे करें बचाव!!!

<p> <strong><span style="color:#800000;">क्या है स्वाइन फ्लू ? क्या है स्वाइन फ्लू के लक्षण ?और कैसे करें बचाव!!!</span></strong></p> <p> &nbsp;</p> <p> &bull;&nbsp; उत्तर भारत में स्वाइन फ्लू काफी तेजी से फैल रहा है। कई राज्य इस जानलेवा बीमारी की चपेट में हैं। इस साल अब तक स्वाइन फ्लू से मरने वालों की तादाद 50 से अधिक हो चुकी है।</p> <p> &nbsp;</p> <div> <strong><u>क्या है स्वाइन फ्लू</u></strong></div> <div> &bull;&nbsp; स्वाइन फ्लू एक घातक वायरस है, जो सूअरों से फैला है।&nbsp;</div> <div> &bull;&nbsp; सबसे पहले इस बीमारी के लक्षण मैक्सिको के वेराक्रूज इलाके के एक पिग फॉर्म के आसपास रह रहे लोगों में पाए गए थे। स्वाइन फ्लू दरअसल सुअरों के बुखार को कहते हैं, जो कि उनकी सांस से जुड़ी बीमारी है।&nbsp;</div> <div> &bull;&nbsp; ये जुकाम से जुड़े एक वायरस से पैदा होती है। ये वायरस मोटे तौर पर चार तरह के होते हैं।</div> <div> &bull;&nbsp;H1N1, H1N2, H3N2 और H3N1। इनमें H1N1 सबसे खतरनाक है और दुनियाभर में यही वायरस सबको अपनी चपेट में ले रहा है।</div> <div> &nbsp;</div> <div> <strong><u>इंसानों में फैलने की संभावनाएं</u></strong></div> <div> &bull;&nbsp; यूं तो आमतौर पर इसके वायरस इंसानों में नहीं फैलते, लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक ये बीमारी इंसानों से इंसानों के बीच भी अब फैलने लगी है। ये वायरस उन लोगों में फैल सकता है, जो सुअरों के सीधे संपर्क में रहते हैं।&nbsp;</div> <div> &bull;&nbsp; स्वाइन फ्लू का वायरस हवा में ट्रांसफर होता है</div> <div> -खांसने, छींकने, थूकने से वायरस सेहतमंद लोगों तक पहुंच जाता है</div> <div> &nbsp;</div> <div> <strong><u>स्वाइन फ्लू के लक्षण :-</u></strong></div> <div> &bull;&nbsp; इसके लक्षण आम मानवीय फ़्लू से मिलते जुलते ही हैं। बुखार, सिर दर्द, सुस्ती, भूख न लगना और खांसी। कुछ लोगों को इससे उल्टी और दस्त भी हो सकते हैं।&nbsp;</div> <div> &bull;&nbsp; गंभीर मामलों में इसके चलते शरीर के कई अंग काम करना बंद कर सकते हैं, जिसके चलते इंसान की मौत भी हो सकती है।</div> <div> &nbsp;</div> <div> <strong><u>ये है इलाज</u></strong></div> <div> &bull;&nbsp; शुरुआती लक्षणों से पता चलता है कि मैक्सिको और अमेरिका के कुछ मरीजों का इलाज टैमीफ्लू और रेलिंज़ा नामक वायरस मारक दवाओं से सफलतापूर्वक किया गया है।</div> <div> &bull;&nbsp; ये दवाएं इस फ़्लू को रोक तो नही सकती, पर इसके खतरनाक नतीजों को कम कर जान जरूर बचा सकती हैं। स्वाइन फ्लू से बचने का सबसे अच्छा तरीका साफ सफाई है।</div> <div> &bull;&nbsp; छींकते समय हमेशा अपनी नाक और मुंह कपड़े से ढक कर रखें।</div> <div> &bull;&nbsp; छींकने के बाद अपने हाथ जरूर धोएं। गंदगी से वायरस बड़ी आसानी से फैलते हैं।</div> <div> &bull;&nbsp; डॉक्टरों के मुताबिक इस रोग का मरीज मरीज गले की खराश, शरीर में दर्द और ऊपरी स्वशन तंत्र में संक्रमण से परेशान रहता है।</div> <div> &bull;&nbsp; बुर्जुग, किडनी की बिमारियों से पीड़ित लोग, कैंसर के मरीज, गर्भवती महिलाएं और बच्चे इस बीमारी के चपेट में जल्दी आते हैं।</div> <div> &nbsp;</div>

Back to Top