Current Details

फेसबुक पर बैन के मामले में भारत सबसे आगे

&bull;&nbsp;सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक ने दुनियाभर की सरकारों द्वारा साइट से कंटेंट हटवाने के लिए किए गए आग्रहों के आंकड़े जारी किए हैं।<br /> <br/>&bull;&nbsp;ये आंकड़े जुलाई से दिसंबर 2014 के दौरान की गई गुजारिश के हैं। फेसबुक का कहना है कि इस दौरान विभिन्न प्रकार की सामग्री को हटाने अथवा उस पर रोक लगाने के बारे में सबसे अधिक आग्रह भारत सरकार से मिले हैं।<br /> <br/>&bull;&nbsp;फेसबुक ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि भारत सरकार के आदेश पर उसने सबसे ज्यादा 5,832 कंटेंट अपनी वेबसाइट से हटाया है। इसमें धर्मविरोधी सामग्री तथा भड़काउ भाषण शामिल हैं।<br /> <br/>&bull;&nbsp;कैलिफोर्निया स्थित मुख्यालय वाली इस कंपनी का कहना है कि जुलाई से दिसंबर 2014 के दौरान उसने 5,832 सूचना सामग्री को &lsquo;प्रतिबंधित&rsquo; किया।<br /> <br/>&bull;&nbsp;कंपनी का कहना है कि देश की प्रवर्तन एजेंसियों और इंडिया कंप्यूटर एमरजेंसी रिस्पोंस टीम के कहने पर यह कदम उठाया गया है। फेसबुक ने अपनी रिपोर्ट में यह खुलासा किया है।<br /> <br/>&bull;&nbsp;तुर्की और रूस से इस तरह के आग्रह की संख्या बढ़ रही है। वहीं, पाकिस्तान जैसी जगहों से इसमें कमी आई है।<br /> <br/>&bull;&nbsp;इस लिहाज से भारत के बाद तुर्की का नंबर आता है जिसने 3,624 सूचना सामग्री को प्रतिबंधित कराया। इस सूची में जर्मनी से प्राप्त आग्रहों की संख्या 60, रूस की 55 व पाकिस्तान की 54 है।<br />

Back to Top