संयुक्त राष्ट्र की विश्व जल विकास रिपोर्ट 2015

» पानी को लेकर हमारी सोच और व्यवहार नहीं बदला तो विश्व भर में अगले 15 साल में पानी की जरूरत के मुकाबले आपूर्ति 40 प्रतिशत कम हो जाएगी। शहरीकरण, जनसंख्या वृद्धि के कारण जल संकट इतना विकराल होगा कि खाद्यान्न संकट भी आ खड़ा होगा।

»  संयुक्त राष्ट्र ने विश्व जल विकास रिपोर्ट 2015 में इस बात का खुलासा करते हुए पूरी दुनिया को आसन्न जल संकट के प्रति आगाह किया है।

»  रिपोर्ट का कहना है कि आने वाले वर्षों में जल प्रबंधन अगर ठीक तरह से नहीं किया तो पेयजल से लेकर सिंचाई व उद्योगों के लिए जल की पर्याप्त आपूर्ति करना मुश्किल हो जाएगा।

» रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2050 में विश्व में पानी की मांग 55 प्रतिशत बढ़ जाएगी। यह मांग मैन्युफैक्चरिंग, तापीय बिजली और घरेलू इस्तेमाल के लिए बढ़ेगी।

»  रिपोर्ट का कहना है कि 2050 में पूरे विश्व की खाद्य जरूरतें पूरी करने के लिए कृषि क्षेत्र को 60 प्रतिशत अधिक खाद्यान्न उत्पादन करना होगा। 

»  विकासशील देशों में तो 100 प्रतिशत अधिक खाद्यान्न उत्पादन करना होगा। इसके लिए खेती को विशाल मात्रा में पानी की जरूरत होगी। इसलिए अभी से कृषि क्षेत्र में पानी की खपत का बुद्धिमतापूर्ण ढंग से प्रबंधन करना होगा।

Back to Top