एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग (एपेक)

-सदस्य:- एपेक के 21 सदस्य देश है.

- आबादी 2.8 अरब या विश्व की पूरी आबादी का 40 प्रतिशत है. 

- वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद में इन देशों का योगदान 57 प्रतिशत है और वैश्विक व्यापार में इनका योगदान 46 प्रतिशत हैI - संसाधन संपन्न और आर्थिक तौर पर गतिशील क्षेत्र है।

- एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग (एपेक) के आर्थिक नेताओं की 22वीं बैठक का आयोजन बीजिंग के उपनगरीय इलाके में यांछी झील के किनारे स्थित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र में रहा है।

- बैठक में चार उद्देश्य प्राप्त किए जा सकेंगे: जिनमें एशिया-प्रशांत की मुक्त व्यापार क्षेत्र प्रक्रिया (एफटीएएपी) शुरू करना, एपेक की 25वीं वषर्गांठ पर बयान जारी करना, नव-प्रवर्तन, सुधार और वृद्धि को बढ़ावा देना ताकि एशिया-प्रशांत के दीर्घकालिक विकास को नयी गति मिले एवं एशिया-प्रशांत में हर तरह के संपर्क की ठोस बुनियाद स्थापित की जा सके.

- भारत एपेक का सदस्य नहीं है. इस संगठन में आम तौर पर प्रशांत क्षेत्र के सदस्य शामिल हैं. भारत को प्रतीक्षा करनी होगी की एपेक नए सदस्यों को शामिल करने पर विचार करेगा या नहीं क्योंकि इस संबंध में प्रतिबंध 2010 में हटा लिया गया है.  

Back to Top